Sukanya Samriddhi Yojana Kya Hai? और इसके लाभ हिंदी में

0

Sukanya Samriddhi Yojana Kya Hai? हेलो दोस्तो गंगा ज्ञान पर आप सब का फिर से स्वागत है। आज के इस पोस्ट में हम आपको प्रधान मंत्री द्वारा शुरुआत कि गई Sukanya Samriddhi Yojana Kya Hai के बारे में बताने वाले हैं। अगर आप भी जानना चाहते है या इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो हमारे इस पोस्ट को जरूर पढ़ें। और आपने दोस्तो के साथ शेयर करें।

sukanya-samriddhi-yojana

जैसा कि हम जानते है कि 10 साल से कम उम्र की लड़कियों के लिए यह योजना की शुरुआत की गई हैं। जो उनकी शिक्षा और शादी के लिए बचत करने के लिए केंद्र सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की है जिसमे एक अच्छी निवेश की योजना हैं। इस बचत में इनकम टैक्स की कोई विकल्प नही हैं। यानी कि इसमें किसी प्रकार का कोई टैक्स नही हैं। जो लोग फिक्स डिपॉजिट के गिरते व्याज दर से परेशान है उनके लिए सुकन्या समृद्धि योजना बहुत अच्छा विकल्प हैं। तो चलिए जानते sukanya samriddhi yojana in hindi के बारे में पूरी जानकरी

Sukanya Samridhi Yojana Kya Hai 2019?

सुकन्या समृद्धि योजन (SSY) बेटियों के लिए केन्द्र सरकार की एक छोटी सी बचत योजना हैं। जिसे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ स्किम के तहत लांच किया गया हैं। जिससे छोटी बचत में स्किम के तहत सबसे बेहतर ब्याज वाली योजना हैं। जो बहुत कम पैसे के साथ खुलने वाला खाता है। यह स्कीम उन परिवारों को ध्यान में रख कर शुरू किया गया है जो छोटी छोटी बचत के जरिये बच्चों की शादी या उच्च शिक्षा के लिए पैसे जमा करना चाहते हैं। ताकि भविष्य में बच्चों को काम आए।

यह भी पढ़े

साल 2016-17 में सुकन्या समृद्धि योजना में 9.1 फीसदी से ब्याज दिया जा रहा था जो कि Income Tex छूट के साथ हैं। इससे पहले इसमें 9.2 फीसदी तक ब्याज मिलता हैं। यह योजना उन लोगो के लिए बहुत अच्छी स्किम है जिनकी आमदनी बहुत कम हैं और जो शेयर बाजार में पैसे लगाने में भरोसा नही करते हैं। निश्चित आमदनी के साथ पूंजी की सुरक्षा इस स्कीम की खासियत हैं। जो पैसे को बेहतर ब्याज और सुरक्षित देता है यह स्कीम।

SSY खाता कैसे खोले?

  • सुकन्या समृद्धि योजना का खाता किसी पोस्ट ऑफिस या कॉमर्शियल ब्रांच की अधिकृत बैंक शाखा में खोला जा सकता हैं।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के खाता खोलने के बाद यह बेटी के 21 साल के होने या 18 साल की उम्र के बाद उसकी शादी होने तक चलाया जा सकता हैं
  • सुकन्या समृद्धि योजना के खाते से 18 साल की उम्र के बाद बच्ची की उच्च शिक्षा के लिए 50 फीसदी तक पैसा निकाली जा सकती हैं।
  • किसी भी कॉमर्शियल ब्रांच में जाकर sukanya samriddhi yojana form भर कर यह खाता खोला जा सकता है।

SSY खाता के लिए कौन कौन से दस्तावेज चाहिए?

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए क्या क्या दस्तावेज जरूरी होता है इसकी पूरी जानकारी आपको नीचे देने वाले है। तो चलिए जानते है-

  • सुकन्या समृद्धि योजना का Account Opening Form
  • लड़की का जन्म प्रमाण पत्र
  • लड़की के माता-पिता पहचान पत्र (पैन कार्ड,राशन कार्ड,ड्राईविंग लाइसेंस, पासपोर्ट इत्यादि)
  • बच्ची के माता-पिता के पते का प्रमाणपत्र(पासपोर्ट, राशन कार्ड,बिजली बिल,टेलीफोन बिल,पानी का बिल)
  • SSY का फॉर्म आप पोस्ट ऑफिस या बैंक से ले सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें

  • आप अधिकतम दो बेटियों के नाम से SSY खाता खुलवा सकते हैं।
  • अगर दूसरी बेटी के जन्म के समय जुड़वा बेटी हो तो तीसरा SSY खाता भी खुलवा सकते हैं। बेटी के 18 साल के होने से SSY से पैसे नही निकाले जा सकते हैं।
  • लड़की के 21 साल के होने पर अकॉउंट मैच्योर हो जाता हैं
  • लड़की के 18 साल पूरे करने के बाद आपको SSY अकॉउंट से आंशिक रकम निकासी की सुविधा मिलती हैं।
  • अगर सुकन्या समृद्धि योजना के अकॉउंट में पैसे जमा नही हुई है तो उसे 50 रुपये सालाना की पेनाल्टी दे कर नियमित कराया जा सकता हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में पैसे कैसे जमा होंगी।

सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में पैसे कैश, चेक ,डिमांड ड्राफ्ट से भी जमा कराई जा सकती है जिसे बैंक स्वीकार करता हो। इसके लिए पैसे जमा कराने वाले का नाम और अकॉउंट होल्डर का नाम लिखना जरूरी होता हैं। इस खाते में पैसे इलेक्ट्रॉनिक मोड से ट्रांसफर के जरिये भी डाली जा सकती हैं। इसके लिए संबंधित पोस्ट ऑफिस या बैंक में कोर बैंकिंग सिस्टम होना चाहिए।

अगर Sukanya Samriddhi Yojana खाते में पैसे चेक या ड्राफ्ट से चुकाई गई तो पैसे खाते में क्लीयर होने के बाद से उस पर ब्याज दिया जाएगा,जबकि ई-ट्रांसफर के मामले में डिपॉजिट के दिन से यह गणना की जायेगी।

SSY खाते पर ब्याज की गणना कैसे होती हैं?

सरकार द्वारा सेक यील्ड के हिसाब से हर तिमाही में SSY पर ब्याज दर तय करती हैं। SSY के खाते पर ब्याज दर जी सेक रेट की तुलनात्मक मैच्योरिटी की तुलना में 75 बेसिस प्वाइंट तक अधिक होता हैं। आप निचे दिए गए विवरण के अनुसार “sukanya samriddhi yojana calculator” के आधार पर व्याज की गणना कर सकते है।

इस स्कीम में अब तक दिए गए ब्याज

  • अप्रैल 1,2014: 9.1%
  • अप्रैल 1,2015: 9.2%
  • अप्रैल 1,2016 जून 30,2016: 8.6%
  • जुलाई 1,2016- सितम्बर 30,2016: 8.6%
  • अक्टूबर 1,2016- दिसंबर 31,2016:8.5%
  • जुलाई 1,2017- दिसंबर 31,2017: 8.1%
  • जनवरी 1,2018-मार्च 31,2018: 8.1%
  • अप्रैल 1,2018-जून 30, 2018: 8.1%
  • जुलाई 1,2018-सितंबर 30,2018: 8.1%
  • अक्टूबर 1,2018 – दिसम्बर 31,2018: 8.5%
  • जनवरी 1,2019-मार्च 31,2019: 8.5%

Sukanya Samiddhi Yojana Account Mature कब होगा?

सुकन्या समृद्धि योजना के खाते खोलने के दिन से 21 साल पूरा होने या लड़की की उच्च शिक्षा, शादी होने के बाद अकॉउंट मैच्योर हो जाएगा। इसमे कुछ शर्तें भी होती है तो चलिए जानते हैं-

  • अगर खताधारक की शादी खाता खोलने के 21 साल पूरे होने से पहले हो जाती हैं तो खाते में पैसे जमा नही कराई जा सकती हैं
  • अगर खाता 21 साल पूरा होने से पहले बंद कराया जा रहा है तो खाता धारक को यह एफिडेविट देना पड़ेगा कि खाता बंद करने के समय उसकी उम्र 18 साल से कम नही हैं। मैच्योरिटी के समय पासबुक और विथड्रॉवल स्लिप पेश करने पर खाताधारक को ब्याज सहित जमा राशि वापस हो जाएंगी।
  • SSY के तहत खाता सिर्फ भारतीय नागरिक का खोला जा सकता हैं। जो भारत का स्थायी निवासी हो। और मैच्योररिटी के वक्त भी यही रह रहा हो। आप्रवासी भारतीय SSY में खाता नही खोल सकते हैं। अगर खाता खोलने के बाद लड़की किसी और देश मे चली जाती है और वहा की नागरिकता ले लेती है तो नागरिकता लेने के दिन से SSY जमा राशि पर ब्याज मिलना बंद हो जाता हैं।

उम्मीद है की यह Sukanya Samriddhi Yojana Kya Hai की पोस्ट पसंद आई होगी। आप हमारे इस पोस्ट को आपने दोस्तों के साथ शेयर कर हमारा मनोबल बढ़ा सकते है ताकि हम इसी तरह नई नई जानकारियाँ आप सब के लिए लिख सके। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो आप हमें नीचे Comment Box में बता सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here