RAM क्या है? What is RAM in Hindi

1

RAM क्या है? What is RAM? – हेलो दोस्तो, गंगा ज्ञान पर आप सब का स्वागत है। आज के इस पोस्ट में हम आपको एक नई जानकारी देने वाले हैं। इस पोस्ट के माध्यम से हम RAM के बारे में जानेंगे RAM Kya hai और RAM Ka Prayog कहा किया जाता है? अगर आप भी RAM के बारे में जानना चाहते है तो हमारे इस पोस्ट को जरूर पढ़ें। और आपने दोस्तो के साथ शेयर भी करें।

ram-kya-hai

RAM शब्द से तो सभी लोग परिचित ही होंगे क्यूंकि हम जब भी एक नया मोबाइल या कंप्यूटर खरीदने जाते है तो आपके मन मे यह सवाल जरूर आता है कि आपको कितने RAM वाला मोबाइल या कंप्यूटर खरदना चाहिए। कंप्यूटर हो या मोबाइल सभी डिवाइस में RAM एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है क्योंकि RAM के ऊपर ही किसी भी डिवाइस की Speed निर्भर होती हैं। अगर आप भी जानना चाहते है कि कंप्यूटर या मोबाइल में कितनी रैम होनी चाहिए ताकि हमारा डिवाइस अच्छे से काम करे तो इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़े। तो चलिए शुरू करते है।

RAM Kya Hai? (What is RAM?)

RAM एक प्रकार का मेमोरी होता है जिसे हम Primary Memory के नाम से भी जान सकते हैं। RAM का फुल्लफॉर्म Random Access Memory होता हैं। यह कंप्यूटर या मोबाइल सिस्टम को Virtual Space देता हैं जिससे किसी भी Launched डाटा को मैनेज किया जा सकता है। जब भी हम अपने मोबाइल या कंप्यूटर में किसी File, App, Game, Photo and Video को ओपन कर के देखते है तो वह हमारे RAM Memory में ही Stored होता है। RAM किसी भी डाटा को तब तक अपने मेमोरी में संग्रहित रखता है जब तक उसका प्रयोग यूजर द्वारा किया जा रहा हो या आपके डिवाइस का Power Supply चालू हो, जैसे ही आप अपने कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस का Power Supply बंद कर देते है ठीक उसी समय RAM Memory में संग्रहित डाटा (Stored Data) समाप्त हो जाता है। RAM Memory में ही हम किसी भी Data या File को लिखते, सुधरते तथा देख सकते है।

RAM को हम Blackboard का उदहारण दे सकते है जहाँ हम कुछ भी लिखते है और मिटाते है। RAM Memory बाकि मेमोरी के अपेक्षा कम होता है किसी भी डिवाइस का RAM ज्यादातर 1GB, 2GB, 4GB, 8GB 16GB तक पाया जाता है, जबकि बाकि Internal/External Storage Memory ज्यादा क्षमता जैसे 50GB, 80GB, 360GB, 500GB, 1TB में पाया जाता है। RAM के Capacity के अनुसार ही हम अपने डिवाइस में App या File को एक साथ खोल सकते है और उसका प्रयोग एक साथ कर सकते है। Ram को और भी कई नाम से जाना जाता है जैसे Volatile Memory, Main Memory, Physical Memory.

Ram क्या करता हैं?- जब भी आप App, Game या File को अपने डिवाइस में Open करते है तो आपके डिवाइस का CPU उस file या Game को Storage Memory से निकाल कर रैम में प्ले करता हैं या दिखता है। इस बीच CPU और मेमोरी के बीच बहुत तेजी से Data का आदान प्रदान होता है। जब आपके मोबाइल या कंप्यूटर में Ram कम हो जाती है और आप कई एप्प Run करवाते है तो इस स्थिति में कंप्यूटर या मोबाइल हैग होने लगता हैं और वह Slow काम करता है।

Ram क्यों जरूरी होता हैं? (Needs of RAM)

आज के समय मे किसी भी मोबाइल या कंप्यूटर में कम से कम 2GB रैम होना जरूरी है क्योंकि आज के समय मे Apps का साइज बढ़ रहा हैं।यदि Apps की बात करे to Facebook यदि यह App डिवाइस में Open किया जाए तो 200 से 300 MB Memory RAM का खर्च हो जाता हैं। और भी कई एप्प है जो कि इनके साइज बढ़ते जा रहे है। आप चाहते है कि मोबाइल में मल्टीटॉकिंग कर सके तो मोबाइल में 2GB Ram होना जरूरी है ताकि मोबाइल में हैकिंग की समस्या न आयें और हमारा डिवाइस बिल्कुल सही तरीके से Speed में काम करे।जितना हो सके ज्यादा रैम की डिवाइस खरीदना चाहिए। क्योकि बाद में इसे बढ़ाया नही जा सकता हैं। वैसे कंप्यूटर में रैम बढ़ा ने का ऑप्सशन होता है पर मोबाइल में नही होता हैं।

Ram के प्रकार (Types of RAM)

जब हमें कंप्यूटर में Ram बढ़ाना होता है या बदलना होता है तो इसके लिए Motherbord भी Compatible होना चाहिए। Ram बहुत तरह के अकारो का होता हैं इसकी क्षमता और स्पीड के आधार पर अलग अलग भागो में बाटा गया हैं। इसकी क्षमता को MB और GB में Mearsure किया जाता है और स्पीड को MHz और GHz में मापा जाता हैं।Random Access Memory मुख्यता दो प्रकार के होते है आइये जानते है इसके बारे में।

1:- Static RAM(SRAM)

2:- Dynamic RAM(DRAM)

Static Ram क्या हैं?

यह कंप्यूटर में प्रयोग होने वाले दो बेसिक मेमोरी में से एक होता हैं। इसमे डेटा तब तक रहेगा जब तक बिजली आती रहेंगी। इसे काम करने के लिए लगातार बिजली कि जरूरत नही पड़ती हैं।Static RAM को इसमें स्टोर होने वाला डाटा को याद रखने के लिए Refresh करने की जरूरत नही होती हैं। इसलिए इसका नाम Static RAM हैं।

*STATIC RAM के फायदे:-

  • बिजली कम खर्च होगा
  • यह DYNAMIC RAM से अच्छा काम करेगा ,उससे जल्दी तथा तेज गति में काम करेगा

*STATIC RAM से होने वाले नुकसान:-

  • मेमोरी क्षमता कम होती है।
  • इसे बनाने में लागत ज्यादा होती है।

*STATIC RAM की विशेषताएं:-

  • इसमें सहनशीलता अधिक होती है।
  • CPU catch के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
  • तेज गति से चलती है।
  • इसे बार बार रिफ्रेश करने की जरूरत नही पड़ती है।
  • इसे वीडियो कार्ड में अपने अनुरूप बदलाव के लिए उपयोग करते हैं।

2:-Dynamic RAM Kya Hai

Dynamic RAM यह SRAM के ठीक विपरित होता हैं। DRAM को बार बार Refresh नहीं करना पड़ता हैं ताकि यह डाटा को याद रख सके। यह तब सम्भव हो सकता है जब इस मेमोरी को एक Refresh CIRCUIT के साथ जोड़ दिया जाये। DRAM को अधिक सिस्टम मेमोरी बनाने में उपयोग किया जाता हैं. DRAM एक Capacitor और एक Transistor से बना हैं।

उम्मीद है की यह जानकारी RAM Kya Hai (What is RAM) आपको पसन्द आयी होगी । आप हमारे इस जानकारी को आपने अन्य दोस्तों के साथ शेयर कर हमारा मनोबल बड़ा सकते है। ताकि हम इसी तरह आपके लिए नई नई जानकारियाँ लिख सके अगर आपका कोई सवाल या सुझव हो तो आप हमें नीचे Comment Box में बता सकते है

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here