Pradhan Mantri Mudra Yojana Loan Kya Hai? और कैसे आवेदन करें

Prashan Mantri Mudra Yojana Loan Scheme Kya Hai and Mudra Yojana Ke Antargat Loan ke Liye Apply Kaise kare or Kon Kon se Dastawej Lagaye jate Hai tatha Interest rate kya Hai

Pradhan Mantri Mudra Yojana Scheme Loan Kya Hai – नमस्कार दोस्तों गंगा ज्ञान पर आपका स्वागत है आज के इस पोस्ट में हम बात करेंगे Pradhan Mantri Mudra Yojana Loan Scheme (PMY) के बारे में।Mudra yojana loan Scheme kya hai और Kaise Apply Kare अगर कोई भी व्यक्ति अपना बिजनेस शुरु करना चाहता है या फिर अपने Current Business को आगे बढ़ाना चाहता है और ऊपर ले जाना जाता है तो आमतौर पर बैंक से लोन के लिए आवेदन करता है।

pradhan-matri-mudra-yojana-loan-scheme

लेकिन बैंक से लोन लेने का प्रोसेस काफी जटिल और काफी मुश्किलों भरा होता है और इसमें गारंटी भी देनी होती है जिसके कारण आमतौर पर लोग बैंक से लोन लेने से कतराते हैं इसी बात को ध्यान में रखते हुए Indian Government ने Small Industries एवं लघु उद्योगों को जो छोटे-छोटे कारोबार है उनको बढ़ावा देने के लिए Mudra Scheme यानि माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट रिफाइनेंस एजैंसी (Micro Units Development Refinance Agency) को लांच किया है, जिसके अंतर्गत कोई भी व्यापारी लोन के लिए अप्लाई कर लोन प्राप्त कर सकता है।

Mudra Yojana Loan Scheme Kya Hai?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मुद्रा योजना देश में छोटे और मीडियम आकार के कारोबार यानी स्मॉल बिज़नेस की Financial Needs को पूरा करने के लिए इंडियन गवर्नमेंट ने April 2016 में Pradhan Mantri Mudra Yojana Scheme (PMY) की शुरुआत की थी जिसके तहत आप किसी भी बैंक से लोन प्राप्त कर सकते है।

Mudra Yojana के अंतर्गत लोन लेने के फायदे

अब हम बात करेंगे कि Mudra Scheme के तहत अगर हम लोन लेते हैं तो उसका फ़ायदा क्या है सबसे पहला फायदा तो ये है कि मुद्रा स्कीम के तहत बिना किसी गारंटी के लोन मिल जाता है अगर हम ऐसे किसी बैंक से लोन के लिए अप्लाई करते है तो उसमे हमे ग्रांटर देना पड़ता है परंतु मुद्रा योजना के तहत बिना ग्रांटर के लोन प्राप्त कर सकते है।

इसे भी पढ़े –

इसमें आपको कोई भी प्रोसेसिंग चार्ज नहीं देना पड़ेगा अगर आप कोई लोन लेते हैं तो उसमें आपको एक अमाउंट प्रोसेसिंग फीस के नाम से चार्ज किया जाता है लेकिन मुद्रा स्कीम के तहत अगर आप कोई भी लोन लेते हैं तो उसमें आपसे किसी भी तरह का कोई चार्ज नहीं ले जाता है और तीसरा फायदा ये है कि मुद्रा लोन के पुनर्भुगतान अवधि के रीपेमेंट पीरियड को 5 सालों के लिए बढ़ाया जा सकता है वर्किंग कैपिटल लोन को मुद्रा कार्ड के द्वारा से लिया जा सकता है।

मुद्रा स्कीम के तहत कौन लोन ले सकता है

अब हम बात करेंगे कि मुद्रा स्कीम के अंतर्गत लोन लेने की योग्यता क्या है कौन इसके अंतर्गत लोन के लिये आवेदन कर सकता है। मुद्रा योजना के अंतर्गत कोई भी भारतीय नागरिक या फर्म जो किसी भी क्षेत्र से हो जो खेती के अलावा अगर अपना बिजनेस शुरु करना चाहता है और उसकी फाइनेंशियल नीड्स दस लाख रुपए तक ही है तो प्रधानमंत्री मुद्रा योजना मुद्रा लोन स्कीम के तहत वह लोन प्राप्त कर सकता है।

मुद्रा योजना के तहत कितने प्रकार के लोन मिलते है

चलिए बात करते हैं कि मुद्रा स्कीम के तहत कितनी तरह के लोन दिए जाते हैं मुद्रा स्कीम के तहत 3 तरह के लोन दिए जाते है जिसमे शिशु लोन (Shishu Loan), किशोर लोन (Kishor Loan) और तरुण लोन(Tarun Loan) किशोर लोन के तहत 50000 तक का लोन दिया जाता है और दूसरा है किशोर लोन उसके तहत 50000 से लेकर 500000 तक के बीच का लोन दिया जाता है यानी आप 50000 से लेकर 500000 और इसके तहत ले सकते हैं। तीसरा लोन है तरुण लोन तरुण के तहत आप 500000 रुपए से 1000000 रुपए तक का लोन ले सकते हैं ।

मुद्रा लोन पर लगने वाले ब्याज (Interest Rate)

अब हम बात करते हैं कि मुद्रा स्कीम के तहत जो लाभ दिए जाते हैं उनकी Interest Rate क्या होता है उनकी ब्याज दर क्या होती है। मुद्रा लोन के तहत जो लाभ दिए जाते हैं उसमें निश्चित ब्याज दर तो होती नहीं है ब्याज दर अलग अलग बैंकों में अलग अलग हो सकती है और आवेदक के बिजनेस के रिस्क के आधार पर भी बैंक इंटरेस्ट रेट अलग अलग हो सकता है आमतौर पर जो मुद्रा लोन दिया जाता है उसकी Interest Rate 12 Percent पर Year के आस पास होती हैं मुद्रा लोन स्कीम के तहत गवर्नमेंट की तरफ से कोई भी किसी भी तरह की सब्सिडी (Subsidy) नहीं दी जाती है।

अगर आवेदक ने किसी दूसरी योजना के तहत किसी सब्सिडी के लिए आवेदन किया है जिसमें सरकार कैपिटल सब्सिडी प्रदान करती है तो सब्सिडी को मुद्रा लोन से लिंक किया जा सकता है यानि की मुद्रा स्कीम के तहत अगर आप लोन लेते हैं तो उसमें गवर्नमेंट की तरफ से किसी भी तरह की कोई सब्सिडी नहीं मिलती है लेकिन अगर आपको किसी दूसरी योजना के तहत सब्सिडी मिली हुई है तो आप सब्सिडी को मुद्रा लोन से लिंक करा सकते हैं।

Mudra Loan Scheme Ke Liye Apply Kaise Kare

मुद्रा लोन को अप्लाई करने का का प्रोसेस क्या है

पहला स्टेप – सबसे पहले सारी जानकारियां जुटाना और सही बैंक का चुनाव करना मुद्रा योजना के तहत लोन के लिए अप्लाई करने का कोई निश्चित प्रोसेस तो है नहीं लोन लेने के लिए आवेदक को सबसे पहले आस पास के बैंकों से संपर्क करके लोन का प्रोसेस जानना पड़ेगा और जो इंटरेस्ट रेट है उससे जुड़ी हुई जानकारियां लेनी पड़ेगी लोन लेने के लिए आपको एप्लिकेशन फॉर्म भरना होता है और इसके साथ ही आपको कुछ डॉक्यूमेंट्स भी अटैच करने होते हैं

दूसरा स्टेप – डॉक्युमेंट तैयार करना और एप्लीकेशन को सबमिट करना, लोन देने के लिए बैंक आमतौर पर आपकी फाइनैंशल नीड्स के आधार पर 2 तरह की जानकारी आपसे लेना चाहते हैं जिसमें वो अलग अलग तरह के डॉक्युमेंट्स की मांग कर सकते हैं अलग अलग तरह के डॉक्युमेंट्स जैसे कि पिछले 2 सालों की बैलेंस शीट इनकम टैक्स रिटर्न और आपके करंट बिज़नस की जानकारी जुटाकर ये जानने की कोशिश करते हैं कि आप उनका लोन वापस चुकाने की कैपेसिटी रखते हैं या नहीं।

साथ में यह भी जानने की कोशिश करते हैं कि आपके बिजनेस में कितना रिस्क है ताकि वो ये कन्फर्म कर सके कि उनके द्वारा दिया गया पैसा सिक्योर रहेगा की नही इसके अलावे आपके Future Business Plan, Project Report, Future Income Estimate, वगैरह के द्वारा ये जानने की कोशिश करते हैं कि बैंक के द्वारा दिए गए लोन को किस तरह के कामों में इस्तेमाल किया जाएगा और उस लोन के कारण बिजनेस को कितना फ़ायदा होगा और कैसे बड़ेगा।

तीसरा स्टेप – इन सभी बातो को ध्यान में रखते हुए अपने नजदीकी बैंक में संपर्क करे और मुद्रा लोन के विषय में बात करे यदि आपका बैंक लोन देने के लिए तैयार है तब आप जरुरी कागजात के साथ Mudra Yojana Loan का Application भर कर बैंक में Apply कर सकते है।

Mudra Yojana Loan के लिए आवश्यक दस्तावेज

चलिए बात करते हैं कि मुद्रा स्कीम के तहत जब आप लोन लेते हैं तो इसमें आपको कौन कौन से डॉक्यूमेंट्स सबमिट करने पड़ते हैं आमतौर पर मुद्रा लोन लेने के लिए आपको आवेदन फार्म के साथ कुछ डॉक्युमेंट्स को सबमिट करना पड़ता है लोन की राशि, बिजनेस के नेचर, बैंक नियम के आधार पर डॉक्युमेंट्स की जो संख्या है वो कम या ज्यादा हो सकती है फॉर एग्जाम्पल अगर आप 50000 से अधिक का लोन ले रहे हैं तो हो सकता है कि आपसे इनकम टैक्स रिटर्न्स कॉपी भी मंगा जा सकता है।

आम तौर पर आपका फोटो पहचान पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड, Balance Sheet, Project Report आदि दस्तावेज जमा करने होते है। आप जिस बैंक में मुद्रा लोन के आवेदन दे रहे है उसी बैंक के वेबसाइट से मुद्रा लोन का आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर सकते है या अपने नजदीकी बैंक जिसमे आप लोन के लिए आवेदन दे रहे है वह से मांग सकते है।

उम्मीद है की Mudra Yojana Loan Scheme की जानकारी आपको पसंद आई होगी। आप इस जानकारी को अपने मित्रों  के साथ शेयर कर सकते है। यदि आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप निचे कमेंट बॉक्स में हमें बता सकते है।

नमस्कार दोस्तों, मैं अखिलेश प्रसाद GangaGyan.in ब्लॉग का एडमिन हूँ, इस ब्लॉग पर आपका स्वागत करता हूँ, इस ब्लॉग पर प्रतिदिन नई - नई जानकारियाँ लिखी जाती है। हम हर जानकारी को आपकी अपनी मातृभाषा (हिंदी) में लिखते हैं। लगातार हमसे जुड़े रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है और कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरूर दें ताकि हम और बेहतर कर सके, धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here