Kaushal Vikash Yojana प्रधानमंत्री कौशल विकाश योजना क्या है?

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana Kya Hai? isase kaise Jude or iske kya benefits hai Kaushal Vikash Yojana Online Registration karne ka Tarika

0

Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana Kya Hai in Hindi- हेलो दोस्तो गंगाज्ञान पर आप सब का फिर से स्वागत है आज के इस पोस्ट में हम आपको Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojna के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में देने वाले हैं अगर आप भी जानना चाहते हैं प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के बारे में तो आप हमारे इस पोस्ट को जरूर पढ़े और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

kaushal-vikash-yojana

जैसा की हम सभी जानते है कि आज के इस आधुनिक युग में एक से बढ़कर एक आधुनिक यंत्रों का निर्माण किया जा रहा परन्तु कई लोग इस आधुनिक यन्त्र से अनजान है ज्यादातर छोटे शहर या क़स्बा के लोग ऐसी जानकारी से अनजान रहते है। अभी भी भारत देश में कुछ ऐसे गांव है जहाँ अभी तक इंटरनेट का नाम तक नहीं है। इसी समस्या को लेकर भारत सरकार ने Make in India Scheme को Launch किया ताकि छोटे – छोटे गांव तथा क़स्बा को शहरों से जोड़ते हुए वहां Kaushal Vikash Yojana के द्वारा शिक्षा प्राप्त कर व्यापर या Job कर सके जिससे बेरोजगारी काम होगी।

Kaushal Vikash Yojana Kya Hai?

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना एक सरकरी योजना हैं। बेरोजगारी की समस्या को देखते हुए इस योजना को 2015 ईस्वी में New National Skill Development Internship Policy के तहत आरंभ किया गया था जो Make in India प्रोजेक्ट के अंतर्गत आता है। इस योजना को शुरू करने का मुख्या उदेश्य है कि देश के छोटे गांव तथा गरीब लोगो को नई -नई जानकारियों से रूबरू करा कर उन्हें काम लायक बनाकर देश की अशिक्षिता और गरीबी को दूर किया जा सके। तो चलिये जानते है प्रधानमंत्री कौशल विकाश योजना के बारे में विस्तार से।

Kaushal Vikash Yojana का क्या उद्देश्य हैं?

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का मुख्य उद्देश्य देश के सभी युवा को उधोगो से जुडी जानकारी देकर उनकी बेरोजगारी दूर करना है। Kaushal Vikash Yojana (PMKVY) योजना के अंतर्गत 10 तथा 12वीं पास युवा ट्रेनिंग ले सकता है। इस योजना के अंतर्गत जो भी ट्रेनिंग का फीस होता है उसे सरकार भारती है। इस योजना के अनुसार पहले वर्ष में 24 लाख Workers को शामिल किया जायेगा और इसके बाद 2022 तक यह संख्या 40.2 करोड़ तक जा सकती है।

इसे भी पढ़े 

इसके अतिरिक्त इस योजना से लोग अधिक से अधिक जुड़ सकें इसके लिए सरकार ने जगह -जगह टेलीकॉम कंपनियों की मदद से Kaushal Vikash Yojna Training Center भी खोलवा रखे है। साथ ही युवाओं को इस योजना के अंतर्गत लोन लेने की भी सुविधा भी उपलब्ध कराइ गई हैं। इसमें मोबाइल कपंनियां मैसेज के द्वारा इस योजना को सभी लोगों तक पहुंचाने का कार्य करती हैं।

किस तरह जुड़ सकते हैं कौशल विकास योजना से

जब आप प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से जुड़ते है तो आपको मैसेज मैसेज के माध्यम से एक टोल फ़्री नंबर मिलता है जिस पर केंडिडेट को मिस कॉल देना होता हैं। मिसकॉल देने के बाद आपके पास एक नंबर से तुरंत कॉल आ जायेगा। जिसके बाद आप आईवीआर(IVR) सुविधा से जुड़ जायेंगे।

उसके बाद कैंडिडेट को अपनी जानकारी निर्देश के अनुसार भेजनी होंगी। जो कि आपके द्वारा भेजी गई जानकारियाँ Kaushal Vikash Yojna के सिस्टम में सुरक्षित रख ली जाएगी। यह जानकारी मिलने के बाद आवेदनकर्ता को उसी के क्षेत्र में यानी कि उसके निवास स्थान के आस पास ट्रेनिंग सेंटर से जोड़ दिया जाएगा जहाँ पर उसको जानकारी के साथ ट्रेनिंग भी दी जायेगी।

इस योजना के तहत जो केंडिडेट का खर्च होगा उसके पैसे सरकार द्वारा दी जाएगी। और वह पैसे सीधा ट्रेनिग देने वाले ट्रेनिंग सेंटर के एकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जाता हैं। इसके लिए सरकार के कुछ नियम भी बनाये गए हैं इसके अंतर्गत हर केंडिडेट का आधार वैलिडेशान होना जरूरी हैं।

इसके अलावे आप Kaushal Vikash Yojana में Online भी अपना Registration कर सकते है। 

  •  सबसे पहले आप Kaushal Vikash Yojana के Official Site http://pmkvyofficial.org पर जाये।
  • यहाँ आप Registration Cadidate में जाकर अपना नाम, मोबाइल तथा ईमेल इत्यादि भरे।
  • अब आप अपने नजदीकी Training Center का चुनाव करे और साथ ही ट्रेनिंग तकनीकी क्षेत्र जैसे – कंस्ट्रक्शन, फूड प्रोसेसिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर, फर्नीचर और फिटिंग एवं ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी में से कोई एक का चुनाव कर सकते है।
  •  ट्रेनिंग सेण्टर का चुनाव करने के बाद आपकी साडी जानकारी उस ट्रेनिंग सेण्टर में दे दी जाती है
  • अब आप जाकर ट्रेनिंग सेण्टर में संपर्क कर सकते है।

कौशल विकास योजना के विशेषताएं

कौशल विकास योजना मौजूदा कर्मचारियों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए ट्रेन और उद्योग की जरूरतो के अनुसार उन्हें प्रमाणित करनें के उद्देश्य से हैं।

रोज़गार क्षमता और युवाओं के उत्पादकता प्रोत्साहन कौशल प्रशिक्षण के लिए उनको बढ़ावा देने और कौशल प्रमाणन के लिए मौद्रिक पुरस्कार प्रदान करना।

इस योजना के तहत प्रशिक्षण उद्योग जगत से जुड़ी राष्ट्रीय नेताओं के मानकों के आधार कर दिया जाएगा।

इस योजना के द्वारा कराए जाने वाली सभी तरह की ट्रेनिंग होती हैं विभिन्न क्षेत्रों में ट्रेनिंग प्राप्त करने के बाद उसकी योग्यताओं की जरूरत होती हैं। किसी भी तकनीकी क्षेत्र में प्रशिक्षण लेने से पहले योग्यता की जांच की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत विशेष तौर पर दसवीं और बारहवीं के बाद स्कूल छोड़ने वाले पूर्वी उत्तर और जम्मू कश्मीर के नौंजवानो पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। क्योकि बेरोजगार युवा गलत व्यक्तियों के संगत में जल्दी आ जाते हैं।

इस योजना के अंतर्गत ऐसे लोग जो काम को जानते हैं लेकिन उसका प्रमाण पत्र न होने की वजह से उस काम की उनके पास मान्यता नही होती इस लिए वह अनोपचारिक कामो में लग जाते हैं। वह भी अपने हुनर को बढ़ा कर उसका प्रमाण पत्र हासिल कर सकते हैं।

इस योजना के द्वारा एक बार परीक्षण खत्म हो जाने पर परशिक्षण युवाओं को 8000 और प्रशिक्षित प्रमाण पत्र दिया जायेगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लाभ

इस योजना के सहायता से बेरोजगार और शिक्षित युवाओं फ्री में विभिन्न तरह के कार्य में प्रशिक्षण प्राप्त करने का अवसर प्राप्त होगा। साथ में प्रशिक्षित युवाओं को प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। जिसकी सहायता से वह भाविष्य में अन्य कर्मचारियों में रोजगार प्राप्त कर सकें यह प्रमाण पत्र भारत के सभी राज्यो में मान्य होगा।

उम्मीद है कि Pradhan Mantri Kaushal Vikash Yojana क्या है का यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी। आप हमारे इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकि हम इसी तरह नई नई जानकारियाँ आप सब के लिए हिंदी में लिख सकें। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो आप हमें नीचे Comment Box में बता सकते हैं।

नमस्कार दोस्तों, मैं परिधि GangaGyan.in पर लेखक हूँ। मुझे नई - नई टेक्नोलॉजी से सम्बंधित जानकारियां सीखना और उसके बारे में दूसरों को बताना पसंद है. GangaGyan पर मैं हरदिन कुछ नई जानकारी लिखती हूँ, आप इसी तरह हमें सहयोग करते रहे ताकि हमारा मनोबल बना रहे | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here