Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan – Apply Online PM Sarkari Yojna

Garib Kalyan Rojgar Yojana क्या है? उद्देश्य, पात्रता, लाभ और कैसे आवेदन करे की पूरी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों, गंगाज्ञान पर आप सबों का सवागत है। हमारे देश भारत में कोरोना वायरस नामक महामारी के कारण जो Lockdown की स्थिति सामने आई है उससे भारतीय प्रवासी मजदूरों को बहुत सारी मुश्किलो का सामना करना पड़ रहा है। सभी अपने-अपने काम धंधो को छोड़कर प्रवासी मजदूर घर पर आकर बेरोजगार बैठे हुए है। उनके लिए केंद्र सरकार अपने ही स्टेट के अंदर अपने ही क्षेत्र में रोजगार के अवसर प्रदान करवा रही है। ताकि जितने भी प्रवासी मजदूर काम छोड़कर आपस आये है उन्हें अपने ही क्षेत्र में स्वरोजगार मिल सके। इसके लोए केंद्र सरकार द्वारा एक योजना को लांच किया गया है। इसी योजना को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना (Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan) का नाम दिया गया है।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना देश मे कोरोना काल मे बेरोजगार घर बैठे प्रवासी मजदूरों को स्वरोजगार प्रदान करने वाली एक योजना है। इससे लोगो की आर्थिक समस्या का समाधान होगा। इस योजना के जरिये अपने अपने राज्य को वापस आये सभी प्रवासियों समेत सभी बेरोजगार को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। इसलिए सरकार बेरोजगार लोगों की समस्या को समझते हुए उनका निदान करने के लिए लिए Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan / Yojana को लांच किया है।

तो चलिए विस्तार से आपको बताते है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना क्या है?, इस योजना का लाभ कौन कौन ले सकता है? क्या उद्देश्य है? यह योजना कैसे शुरू की जाएगी। कैसे प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के माध्यम से रोजगार प्राप्त कर सकते है? इसके लिए आपको क्या करना चाहिए। क्या इसके लिए ऑनलाइन अप्लाई करना होगा इत्यादि तथ्यों की पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारा यह लेख जरूर पढ़िए और दोस्तो के साथ शेयर कीजिए।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan 2020

हमारे देश भारत मे कोरोना वायरस के कारण जो Lockdown की स्थिति सामने आई है उसकी वजह से बेरोजगार बैठे प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिलाने के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने अपने एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये सभी देशवाशियो को सम्बोधित करते हुए 20 जून 2020 को प्रधानमंत्री Garib Kalyan RojgarYojna की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से देश भर में उन प्रवासी मजदूरों सहित सभी बेरोजगार नागरिको को रोजगार उपलव्ध कराया जाएगा।

इसे भी पढ़े 

इस योजना को सबसे पहले ग्रामीण क्षेत्रो में शुरू किया जाएगा। इस अभियान को कारगर बनाने के लिए 125 दिनों तक एक कैम्प चलाया जाएगा इस कैम्प की अंतिम तारीख 22 अक्टूबर 2020 रहेगी। इस अभियान के अंतर्गत 25 विभिन्न सेक्टर्स तथा उनको किस तरह आगे बढ़ाया जाए इन मूल तथ्यों पर विचार विमर्श रखा जाएगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना बेरोजगारों को रोजगार दिलाने में साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रो में एक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण करेगी जिससे ग्रामीण इलाके में ही अच्छी रोजगार उपलव्ध हो सके। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत केंद्र सरकार 50 लाख करोड़ रूपये खर्च करेगी। इस योजना में 12 मंत्रालयों और विभागों को जोड़ा जाएगा। जिसमे –

  1. ग्रामीण विकास मंत्रालय
  2. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय
  3. पंचायतीराज मंत्रालय
  4. खान मंत्रालय
  5. पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय
  6. पर्यावरण मंत्रालय
  7. रेल मंत्रालय
  8. पेट्रोलियम एवम प्राकृतिक गैस मंत्रालय
  9. नई एवम नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय
  10. सीमा सड़क मंत्रालय
  11. दूरसंचार मंत्रालय
  12. कृषि मंत्रालय इत्यादि प्रमुख है।

PMGKRY की शुरुआत कैसे होगी?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना को सफल बनाने के लिए सरकार 125 दिनों की एक कैम्प चलाएगी जिसमे 25 अलग-अलग सेक्टर्स और अन्य विभाग रोजगार को आगे बढ़ाने के लिए विचार विमर्श करेंगे। ये 25 सेक्टर्स ऐसे प्रोजेक्ट से जुड़े हुए हैं जिसके माध्यम से ग्रामीण इलाकों की मूलभूत सुख सुविधा को मजबूत करने के साथ-साथ ग्रामीणों के जीवन को बेहतर बनाने जैसे कार्यो से जुड़े हुए होंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के अंतर्गत सबसे पहले 25 हजार प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलव्ध कराया जाएगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना में सबसे पहले 6 राज्यो और उनके 116 जिलो में शुरू की जायेगी। जिसमे बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उड़ीसा, झारखण्ड शामिल है। इन्ही राज्यो में अपने काम धंधो को खोकर लौटे हुए प्रवासी मजदूरों को रोजगार मिलेगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना की शुरुआत सबसे पहले बिहार के Khagadiya जिले के ब्लॉक Beldour के गांव Telihaar से होगा।

PMGKRY के अंतर्गत रोजगार क्याक्या है?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना 20 जून 2020 को बिहार के खगड़िया जिले के ब्लॉक बेलदौर के तेलिहार गांव से शुरू की गई है। इस योजना के तहत तेलीहार गांव में 20 जून से आंगनबाड़ी भवन, सामुदायिक शौचालय, ग्रामीण मंडी, कुँआ इत्यादि बनाने का कार्यक्रम शुरू किया गया है। इसी तरह प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के माध्यम से हर ग्रामीण इलाकों में अपनी जरूरतों को पूरा किया जायेगा।

PMGKRY योजना के तहत अलग-अलग गाँव मे कही गरीबो के लिए पक्के घर बनाये जाएगें, कही वृक्षारोपण भी होगा, कही पशुओं को रखने के लिए शेड भी बनाये जाएंगे, पीने के पानी के लिए ग्राम सभाओं के सहयोग से जल जीवन मिशन को भी आगे बढ़ाया जाएगा। इसके अलावा जरूरत के हिसाब से सड़क के निर्माण पर भी जोर दिया जाएगा साथ ही जहां पंचायत भवन नहीं है वहां पंचायत भवन भी बनाये जाएंगे।

इस अभियान के तहत आधुनिक सुविधाओं से भी ग्रामीण इलाकों को जोड़ा जाएगा अब शहरों की तरह ग्रामीण इलाकों में भी हर घर मे कंप्यूटर/लैपटॉप और इंटरनेट की सुविधा मिलेगी ताकि ग्रामीण क्षेत्रो के बच्चे भी अच्छे से पढ़ सके। ग्रामीण क्षेत्रो की इन सभी मूलभूत आवश्यकताओं को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना से जोड़ा गया है। देश में पहली बार ऐसा होगा जब ग्रामीण क्षेत्रो में शहरों की अपेक्षा ज्यादा इंटरनेट की सुविधा दी जाएगी।

ग्रामीण इलाकों में भी इंटरनेट की स्पीड बढे, फाइबर सामग्रियों का कारोबार बढ़ें इत्यादि इससे जुड़े कार्य भी इस योजना में शामिल किए गए है। इस प्रकार की सारी प्रोजेक्ट के कार्यो में प्रवासियों सहित अन्य बेरोजगारों को भीरोजगार मिलेगा।महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ा जायेगा। महिलाये भी इस प्रोजेक्ट में शामिल होंगी।

साथ ही महिलाओ को अधिक से अधिक स्वंय सहायता समूहों से जोड़ा जाएगा ताकि अपने परिवार का अच्छे से पालन पोषण कर सके और अपने अतिरिक्त साधन जुटा सके। इस योजना में हुनर मैपिंग की भी शुरुआत की गई है। इससे हुनर की पहचान करके आपके कौशल के मुताबिक आपको काम दिया जाएगा साथ ही अछि सैलरी भी दी जाएगी।

Benefits of Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के माध्यम से देश के प्रवासी मजदूरों के साथ-साथ अन्य बेरोजगार मजदूरों को भी लाभ मिलेगा। जैसे-

  1. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत सभी प्रवासी मजदूरों को स्वरोजगार मिलेगा सबसे पहले देश के 6 राज्यो के 116 जिलो में 125 दिनों तक इस योजना से सम्बंधित कैंप चलेगा।
  2. अपने-अपने राज्यो में वापस आये सभी प्रवासियों को अपने ही क्षेत्र में स्वरोजगार प्राप्त होगा।
  3. इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रो में आजीविका के स्रोत को बढ़ावा मिलेगा।
  4. बेरोजगारों को अपने आस पास ही कई छोटे-बड़े रोजगार मिलेंगे।
  5. साथ ही मजदूरों द्वारा दूसरे राज्यो में मजदूरी करने के लिए पलायन करना इत्यादि रोका जाएगा।
  6. लोग अपने ही क्षेत्रो में काम करके अपनी आर्थिक स्थिति मजबूत करेंगे। ताकि किसी से कर्ज न लेना पड़े।
  7. इस योजना के तहत अच्छी सैलरी भी मिलेगी।
  8. आय में बढ़ोतरी होगी, गांव के विकास से देश का विकास होगा।

PMGKRY के लिए मुख्य पात्रता

अभी तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना देश के सिर्फ 6 राज्य बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिसा, राजस्थान, झारखंड राज्यो में ही लागू किये जाएंगे। जिसमे सबसे पहले बिहार के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों से PMGKRY की शुरुआत होगी। इस योजना से जुड़ने के लिए उम्मीदवार की पात्रता इस प्रकार होनी चाहिए।

  1. इन 6 राज्यो में से किसी एक का स्थायी निवासी होना आवश्यक है।
  2. आवेदक के पास अपना आधारकार्ड होना आवश्यक है।
  3. आवेदक के पास अपना आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र इत्यादि होना आवश्यक है।
  4. आवेदक की उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  5. इस योजना के तहत हुनर मैपिंग के माध्यम से अच्छे पदों पर रोजगार मिलेगा।

PMGKRY 2020 Online Registration

चूंकि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार् योजना हाल ही में शुरू की गई है अभी इस इस योजना के अंतर्गत सिर्फ रोजगार से संबंधित जानकारी ही घोषित किये गए है। देश के जो भी मजदूर इस योजना में रोजगार के लिए आवेदन करना चाहते है उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि केंद्र सरकार द्वारा अभी इस पर कोई कार्य शुरू नही किया गया है।

इसे भी पढ़े 

लेकिन बहुत जल्द सरकार योजना से जुड़ी सारी अपडेट लाएगी, जैसे ही सरकार इस योजना से जुड़ी अन्य अप्डेट्स और आवेदन करने की प्रक्रिया इत्यादि शुरू करेगी हम आपको इसी लेख के माध्यम से सभी जानकारियो से अवगत कराएंगे।

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan का उद्देश्य

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना प्रवासी मजदूरों के लिए एक नई योजना है इस योजना का मुख्य उद्देशय देश के सभी प्रवासी मजदूरों के साथ-साथ अन्य पात्र बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान करना है। इस अभियान का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रो में भी अब रोजगार के माध्यम से ग्रामीण विकास को बढ़ावा देना है और आजीविका के साधनों को अधिक से अधिक उपलव्ध कराना है।

सरकार पूरा प्रयास करना चाहती है कि कोरोना महामारी के समय मे ग्रामीणों को गांव में रहते हुए किसी से कर्ज न लेना पड़े। किसी के आगे हाथ न फैलाना पडे, गरीब का स्वाभिमान को ठेस न पहुँचे। इस योजना के माध्यम से गांव के विकास के साथ साथ देश का विकास होगा।यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य है।

Conslusion

उम्मीद है Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan की यह जानकारी आपको पसंद आई होगी आप इस जानकारी को अपने मित्रों के साथ शेयर कर के हमारा मनोबल बढ़ा सकते है ताकि इसी तरह हम और भी नई-नई जानकारियां आपके लिए लिख सके। आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप निचे कमेंट बॉक्स में बता सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here