BDO Officer कैसे बनें? Block Development Officer बनाने की प्रक्रिया

BDO Officer Kaise Bane Puri Jankari Qualififcation Salary Exam Selection Process

0

BDO Officer Kya Hai in Hindi और BDO Officer Kaise Bane? हेलो दोस्तो गंगा ज्ञान पर आप सब का फिर से स्वागत है। आज के इस पोस्ट में हम आपको BDO Officer Kaise Banate Hai की पूरी जानकारी हिंदी में देने वाले हैं। अगर आप भी जानना चाहते हैं कि BDO (Block Development Officer) कैसे बना जाता है और इसकी क्या Qualification होनी चाहिए तथा BDO Officer की Salary कितनी होती है तो आप हमारे इस पोस्ट को जरूर पढ़े और अपने दोस्तो के साथ शेयर करें।

bdo-office-kaise-bane

वैसे तो हम सभी जानते ही होंगे की BDO Officer का Full Form Block Development Officer होता है जिसे हम हिन्दी में प्रखंड विकास पदाधिकारी कहते हैं। प्रखंड विकास पदाधिकारी बनने के लिए हमारे पास क्या-क्या योग्यता होनी चाहिए और इसके लिए कौन सी पढाई पढ़नी होती है इसके बारे आज हम आपको पूरी जानकारी देने वाले है।

हमें किसी भी चीज को करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए होती है अन्यथा हमारे असफल होने का एक कारन यह भी बन सकता है। यदि आप प्रखंड विकास पदाधिकारी बनाना चाहते है तो आपको जितना हो सके इस से सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए तब आपको इससे सम्बंधित परीक्षा में भाग लेना चाहिए तो चलिए हम विस्तार से जानते है BDO (Block Development Office) के बारे में

BDO कैसे अधिकारी होते है ?

जैसा की हम सभी ने जाना की BDO का Full Form Block Development Officer होता है यानि प्रखंड विकास पदाधिकारी जो प्रखंड के विकास के लिए कार्य करता है। एक प्रखंड का निर्माण कई ग्रामों और कस्बो को मिला होता है और उन सभी ग्राम (Village) के विकास की जिम्मेवारी एक प्रखंड विकास पदाधिकारी के कंधो पर होता है। ब्लॉक के अंतर्गत ब्लॉक के विकास के लिए विभिन्न प्रकार की सरकारी योजनाओं की राशि आती रहती है जिसे एक BDO अपने स्तर से अपनी देख रेख में उस विकास के लिए लगत राशि को खर्च कर प्रखंड में विकास के प्रगति पर लाते है ?

इसके अलावे अन्य कई योजना जैसे वृद्धा पेंशन, विकलांक पेंशन, नरेगा इत्यादि का कार्यभार भी एक प्रखंड विकास पदाधिकारी यानि BDO के कंधो पर होता है।

BDO बनाने की शैक्षणिक योग्यता क्या है? 

यदि आप BDO Officer बनाना चाहते है तो सबसे पहले आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविघालय से मुख्या तौर पर स्नातक (Graduation) या परा-स्नातक (Post Graduate) होनी चाहिए। ग्रैजुएट तथा पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद आप BDO पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।

BDO Officer के आवेदन के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए

प्रखंड विकास पदाधिकारी बनने के लिए सभी वर्गों की उम्र सीमा अलग-अलग रखी गई है। BOD बनाने के लिए न्यूनतम उम्र (Minimum Age) 21 वर्ष और अधिकतम उम्र 40 वर्ष तक होना अनिवार्य है। OBC वर्ग वालो को 3 साल की छूट दी जाती हैं इसके अतिरिक्त SC/ST उमीदवार को 5 वर्ष की छूट दी गई हैं। निचे हम Categories Wise विवरण दे रहे है जिसे देख कर आप समझ सकते है

General – Minimum Age 21 – 40

OBC(Other) – Minimum Age – 21 – 43

SC/ST – Minimum Age -21 – 45

इसे भी पढ़े –

BDO Officer के लिए होने वाले Exams

अब बात करते BDO Officer के चयन प्रक्रिया के बारे में (BDO Office Selection Process). BDO Officer के लिए चयन प्रक्रिया तीन अलग-अलग चरणों में रखी जाती हैं। जिसमें सबसे पहले Preliminary Exam यानी प्रारंभिक परीक्षा होती है। उसके बाद दूसरी बार मे Main Exam यानि की मुख्य परीक्षा और तीसरे चरण में Interview यानी साक्षात्कार होता इस माध्यम से इसका चयन किया जाता है। इन तीनो प्रक्रिया के बारे में हम आपको विस्तार से निचे बताते है –

Preliminary Exam

Preliminary Exam इसे प्रारंभिक परीक्षा भी कहा जाता है। यह आवेदन करने के बाद सबसे पहले चरण में होता हैं। इसमें सभी आवेदन करने वाले उम्मीदवार हिस्सा लेते हैं। ये परीक्षा State Public Service Commission के द्वारा आयोजित किया जाता है। सभी राज्यों के लिए अलग-अलग State Public Service Commission आयोग चलाई जाती हैं। जैसे की झारखंड राज्य में JPSC द्वारा आयोजित करवाई जाती है और इसमें जो आपको प्रश्न पूछे जाते हैं वो सभी ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते हैं।

इस परीक्षा में 2 Paper का Exam होता हैं जिसमे 250 प्रश्न पूछे जाते हैं जो 200 अंको का होता हैं। इसके First Paper में 150 सवाल पूछे जाते है जबकि दूसरे पेपर में 100 सवाल पूछे जाते हैं।

1. पेपर 1 के पाठ्यक्रम: जनरल स्टडीज
भारत और विश्व भूगोल के अंतर्गत भारत की सामाजिक, आर्थिक, भौतिक, भूगोल म्बंधित प्रश्न
राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं के बारें में
पर्यावरण पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन पर सामान्य मुद्दे
भारतीय इतिहास और राष्ट्रीय आंदोलन के बारें में
भारतीय राजनीति और प्रशासन – राजनीतिक प्रणाली, संगठन, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, आधिकारिक मुद्दे, आदि से सम्बंधित प्रश्न
सामान्य विज्ञान

2. पेपर 2 का पाठ्यक्रम: सीएसएटी
कक्षा 10वीं स्तर के सामान्य हिंदी
मानसिक क्षमता से सम्बंधित प्रश्न
कक्षा 10वीं स्तर के प्राथमिक गणित
तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमता से सम्बंधित प्रश्न
कक्षा 10वीं स्तर के सामान्य अंग्रेजी
समस्या सुलझाना – निर्णय लेने से सम्बंधित प्रश्न

Main Exam

Main Exam इसे मुख्य परीक्षा भी कहते हैं। जब आप प्रारंभिक परीक्षा में सफल घोषित हो जाते हैं तो उसके बाद ही आपकी मुख्य परीक्षा में प्रवेश होती है इस परीक्षा में केवल वही उम्मीदवार हिस्सा लेते हैं जो प्रारंभिक परीक्षा में सफल घोषित हुए हों। मुख्या परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए आपको काफी मेहनत करनी होती है। यह एग्जाम भी लिखित रूप में लिया जाता हैं। इसमें सब मिलाकर 6 Paper से सवाल पूछे जाते हैं।

Interview

Third Exam Interview इसे साक्षात्कार भी कहते हैं। जब आप प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा में सफल घोषित हो जाते हैं तो आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता हैं ये तीसरा और अंतिम चरण होता है। इसमें कुछ अधिकारियों द्वारा आपसे प्रश्न पूछे जाते हैं। जिसका आपको उत्तर देना होता हैं। इंटरव्यू में अधिकतम 100 नंबर के सवाल पूछे जाते हैं। जो आपको लिखित परीक्षा में नंबर मिलते है और इंटरव्यू में जो नंबर मिलते हैं उन सभी नंबर को मिला कर मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है उसी के आधार पर उमीदवार का चयन होता हैं।

BDO का वेतन कितना होता हैं?

BDO Officer का वेतन कितना होता हैं यह सवाल आपके मन मे जरूर आता होगा आइये जानते हैं। BDO एक सरकारी अधिकारी होते है। जिनका मासिक वेतन 9300 से 38000 तक होता है। साथ ही सरकार द्वारा BDO Officer को अन्य बहुत सी सुविधाएं भी दी जाती है। जिसका उन्हें कोई शुल्क नही देना होता है जो सरकार की ओर से फ्री में दी जाती है।

BDO Officer का कार्य

BDO Officer का कार्य यह होता है कि अथॉरिटी और दूसरे अधिकारियों द्वारा अप्रूब किये गए योजनाओं और कार्यक्रमो को सही से किया जा रहा है या नही।

BDO पंचायत समिति फंड से पैसे निकलते हैं और योजना के अनुसार उसको पंचायत में बाटते हैं।

पंचायत समिति के द्वारा दिये गए सभी दस्तावेज और पत्र को चेक करके उस पर साइन करने का काम करता हैं।

BDO Officer को अगर ऑडिटर बताता हैं कि पंचायत समिति एकाउंट में किसी तरह की गड़बड़ी हैं तो उसको ठीक करने के लिए BDO कोई भी कदम उठा सकता हैं।

पंचायतों के योजनाओं को तैयार करने और देखने में मदद करना और पंचायत समिति की योजनाओं और प्राथमिकताओ के अनुरूप इनका यह भी कार्य होता हैं कि पंचायत द्वारा किए गए निर्धारित समय के अनुसार हो इसका ध्यान रखना होता हैं।

उम्मीद हैं कि BDO Officer कैसे बने की जानकारी का यह पोस्ट आपको पसंद आया होगा। आप हमारे इस पोस्ट को अपने दोस्तो के साथ शेयर कर हमारा मानोबल बढ़ा सकते हैं ताकि हम इसी तरह नई नई जानकारिया आप सब के लिए लिख सके। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें नीचे Comment Box में बता सकते हैं।

नमस्कार दोस्तों, मैं परिधि GangaGyan.in पर लेखक हूँ। मुझे नई - नई टेक्नोलॉजी से सम्बंधित जानकारियां सीखना और उसके बारे में दूसरों को बताना पसंद है. GangaGyan पर मैं हरदिन कुछ नई जानकारी लिखती हूँ, आप इसी तरह हमें सहयोग करते रहे ताकि हमारा मनोबल बना रहे | धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here